Coronavirus (COVID-19): बिहार में राशन कार्ड वाले परिवारों को 1 महीने के लिए मुफ्त राशन मिलेगा

Coronavirus (COVID-19): बिहार में राशन कार्ड वाले परिवारों को 1 महीने के लिए मुफ्त राशन मिलेगा
Spread the love

Coronavirus Update: कोरोना वायरस की वजह में बिहार में भी 31 मार्च तक लॉकडाउन है. इस बीच मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बड़ी घोषणा की है। बिहार में राशन कार्ड वाले परिवारों को 1 महीने के लिए मुफ्त राशन मिलेगा

खास बातें

  • बिहार में 31 मार्च तक लॉकडाउन
  • राशन कार्ड वाले परिवारों को 1 महीने के लिए मुफ्त राशन
  • सरकार 1000 रुपये भी देगी

पटना: Coronavirus Update: कोरोना वायरस की वजह में बिहार में भी 31 मार्च तक लॉकडाउन है. इस बीच मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बड़ा ऐलान किया है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि राज्य में जिन लोगों के पास राशन कार्ड है उन्हें अगले एक महीने तक मुफ्त राशन दिया जाएगा. नीतीश कुमार ने कहा कि लॉकडाउन वाले क्षेत्रों में राशन कार्ड रखने वाले प्रत्येक परिवार को 1000 रुपये मिलेंगे. साथ ही कक्षा 1 से कक्षा 12 के छात्रों को 31 मार्च तक छात्रवृत्ति मिलेगी. इसके साथ-साथ मुख्यमंत्री ने यह भी घोषणा की कि पेंशनरों को भी 3 महीने की पेंशन अग्रिम मिलेगी. इसके साथ-साथ स्वास्थ्य अधिकारियों और श्रमिकों को पुरस्कार के रूप में एक महीने का अतिरिक्त वेतन दिया जाएगा।

बता दें, भारत में कोरोना वायरस के संक्रमण से रविवार को तीन और लोगों की मौत होने से मृतकों की संख्या सात हो गई है। मृतकों में बिहार और गुजरात में हुई एक-एक व्यक्ति की मौत का मामला भी शामिल हैं. कोविड-19 के मामलों की संख्या बढ़कर 390 हो गई है। इस बीच इस वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए 22 मार्च की मध्य रात्रि से 31 मार्च की मध्यरात्रि तक सभी यात्री ट्रेन और अंतरराज्यीय बस सेवाओं को बंद करने की रविवार को घोषणा की गई और अभूतपूर्व कदम उठाते हुए 80 जिलों में लॉकडाउन किया गया है।

टिप्पणियां:
गौरतलब है कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पिछले सप्ताह घोषणा की थी कि कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों के इलाज का खर्च राज्य सरकार उठाएगी। यही नहीं, इस बीमारी से मौत होने पर मरीज के परिजनों को 4 लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएग। इधर कोरोना वायरस के कारण भारतीय रेलवे ने अपनी सभी यात्रा सेवाओं को बंद कर दिया है। केवल मालगाड़ियां चलेंगी। ऐसे में 13,523 ट्रेनों पहिए थम गए हैं। इनमें 5881 ईएमयू, 3695 मेल एक्सप्रेस और 3947 पैसेंजर ट्रेनें शामिल हैं। पहले रेलवे ने केवल पैसेंजर ट्रेन बंद करने का ऐलान किया था। लेकिन रविवार रात रेलवे ने सभी यात्री सेवाओं को बंद करने का फैसला किया।

Read More Khabar.NDTV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *